पश्चिम-बंगाल – मायेर रान्ना योजना 2021 क्या है Mayer Ranna Yojana

West bengal Mayer Ranna Yojana 2021: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पश्चिम-बंगाल के लोगों के लिए एक बहुत ही सुंदर गिफ्ट लेकर आई है जिसका नाम है मायेर रान्ना योजना ।अभी इलेक्शन आने वाला है और इस समय इस योजना के आने से ममता बनर्जी को पश्चिम बंगाल के काफी वोटरों का बहुत सपोर्ट मिल सकता है।

तो इस पोस्ट में हम जानेंगे यह मायेर रान्ना योजना क्या है और इससे लोगों को क्या लाभ मिलने वाला है?

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बंगाल के लोगों के लिए ₹5 में भरपेट खाना देने का ऐलान किया है इस प्लान के तहत कोई भी व्यक्ति ₹5 देकर भरपेट खाना खा सकता है।

इस स्कीम को पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा 15 फरवरी 2021 को मायेर रान्ना ( Mayer Ranna) योजना नाम से लांच किया गया है। इसी प्रकार का एक स्कीम तमिल नाडु के तत्कालीन मुख्यमंत्री स्वर्गीय जयललिता द्वारा लाया गया था जिसका नाम था अम्मा थाली योजना। अब इसी योजना को पश्चिम बंगाल में मायेर रान्ना योजना (Mayer Ranna Yojana) नाम से लाया गया है । मायेर रान्ना इस शब्द का अर्थ होता है माँ के हाथ का बना हुआ खाना।

West Bengal Mayer Ranna Yojana scheme in hindi
West Bengal Mayer Ranna Yojana scheme in hindi

मायेर रान्ना योजना 2021

Mayer Ranna Yojana 2021: पश्चिम बंगाल के मायेर रान्ना योजना तहत के अनुसार जरूरतमंद परिवारों को ₹5 में भरपेट भोजन दिया जाएगा और यह योजना 15 फरवरी 2021 से लागू हो जाएगा इस योजना को सफल बनाने के लिए वेस्ट बंगाल की सरकार कोलकाता के 16 जगहों पर फूड स्टॉल लगाएगी जिसमें सभी तरह के भोजन जैसे कि चावल दाल अंडा करी यह सब मिलेंगे और लोग ₹5 में ही इसका आनंद ले पाएंगे।

बहुत से ऐसे जरूरतमंद लोग हैं जो गरीबी रेखा के नीचे रह रहे हैं और जिनको ढंग का खाना नहीं मिल पाता है या फिर भूखे सोना पड़ता है उनके लिए यह बहुत ही सुनहरा मौका है । इस योजना के तहत उन्हें ₹5 में ही खाना मिल जाएगा हालांकि या योजना पूरे वेस्ट बंगाल में लागू नहीं किया गया है अभी फिलहाल यह उसी जगह पर उपलब्ध है। यह योजना शायद आपके किसी काम का नहीं हो लेकिन बहुत से जरूरतमंदों के लिए या एक चमत्कार से कम नहीं होगा।

back to menu ↑

पश्चिम बंगाल मायेर रान्ना योजना समय शारणी

मायेर रान्ना योजना का लाभ उठाने के लिए आप किसी भी टाइम ₹5 देकर खाना नहीं खा सकते हैं इसके लिए कुछ नियम कानून बनाया गया है। फिलहाल इस नियम के अनुसार आपको सिर्फ दोपहर के 1:00 से 2:00 के बीच में ही खाना मिलेगा अतः अगर आपको इस योजना के तहत ₹5 में खाना खाने की सोच रहे हैं तो आपको 16 जो स्टॉल्स बनाए गए हैं वहां पर आपको 1:00 से लेकर 2:00 के बीच में जाकर ही खाना खाना होगा।

back to menu ↑

मायेर रान्ना योजना का कार्यान्वयन

Implementation of Mayer Ranna Yojana: मायेर रान्ना योजना, इस स्कीम का पूरा कार्य भर कोलकाता नगर निगम (कोलकाता मुंसिपल कॉरपोरेशन) को दिया गया है कोलकाता मुंसिपल कॉरपोरेशन के बोर्ड मेंबर देवाशीष कुमार के अनुसार स्टॉल लगाने का काम शुरू हो गया है और जल्द ही उनका लक्ष्य है पूरे 144 वार्ड में इंस्टॉल ओं को लगा दिया जाए जिससे कि ज्यादा से ज्यादा जरूरतमंद लोगों तक इस स्कीम का लाभ पहुंचाया जा सके।

back to menu ↑

मायेर रान्ना योजना का लाभ

Benefits of Mayer Ranna Yojana & Eligibility Criteria: इस योजना के तहत राज्य का कोई भी व्यक्ति इसका फायदा उठा सकता है और ₹5 में भरपेट खाना खा सकता है।

खाना लेने के लिए आपको किसी भी प्रकार का फॉर्म नहीं भरना पड़ेगा या फिर इसके लिए कोई भी एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया नहीं है। कोई भी व्यक्ति दिए गए 16 स्टॉल्स पर जाकर ₹5 में खाना खा सकता है
आप मायेर रान्ना योजना के किसी भी स्टॉल पर जाकर सिर्फ ₹5 में भरपेट खाना खा सकते हैं और इसके लिए कोई जातिवाद का बंधन नहीं है किसी भी जाति के लोग के लिए यहां पर कोई रुकावट नहीं है हर कोई मुक्त है कोई खाने के लिए।

आशा करता हूं कि आपको वेस्ट बंगाल के मायेर रान्ना योजना (Mayer Ranna Yojana)के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी अगर फिर भी आपके पास कुछ प्रश्न है तो आप इन प्रश्नो को नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply

हिन्दीदुनिया
Logo